manjurajpatrika

मुंबई: राज ठाकरे के खिलाफ सड़क पर उतरे फेरीवाले, विरोध पर पांच कार्यकर्ताओं को जमकर पीटा

मुंबई- मुंबई में फेरीवालों ने जबरन हटाए जाने पर महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के खिलाफ आवाज उठाई है। बीते शनिवार (28 अक्टूबर) को फेरी...

मुंबई- मुंबई में फेरीवालों ने जबरन हटाए जाने पर महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के खिलाफ आवाज उठाई है। बीते शनिवार (28 अक्टूबर) को फेरीवाले पार्टी प्रमुख राज ठाकरे के विरोध में मलाड में इकट्ठा हुए। जहां उन्होंने पार्टी प्रमुख के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इस दौरान वहां से गुजर रहे मनसे कार्यकर्ताओं द्वारा रैली को रोकने पर उन्होंने पांच लोगों की पिटाई कर दी, जिन्हें हॉस्पिटल में भर्ती कराना पड़ा। वहीं पुलिस ने चार फेरीवालों को हिरासत में लिया है। दरअसल मनसे ने एल्फिंस्टन रोड स्टेशन पर भगदड़ के बाद रेलवे स्टेशन परिसरों में मौजूद फेरीवालों को हटाने के लिए अभियान चलाया है। एल्फिंस्टन दुर्घटना में 22 लोगों की मौत हो गई थी जबकि कई लोग घायल हुए थे। मामले में पुलिस का कहना है कि फेरीवालों ने मनसे कार्यकर्ताओं पर हमला किया जिसमें पांच लोग बुरी तरह घायल हो गए।

दूसरी तरफ मुंबई कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष संजय निरुपम ने कहा है कि मनसे नेताओं के कदम को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। एल्फिंस्टन ब्रिज हादसे के बाद से ही राज ठाकरे की पार्टी कार्यकर्ताओं ने मुंबई में कोहराम मचा रखा है। रेलवे स्टेशन परिसर में अपना धंधा करने वाले फेरीवालों की जमकर पिटाई कर रहें हैं। वहीं फेरीवालों ने चेतावनी भरे शब्दों में कहा है कि अगर उन्हें सुरक्षा नहीं दी गई तो वो खुद अपनी सुरक्षा के लिए मनसे कार्यकर्ताओं का मुकाबला करेंगे।

जानकारी के लिए बता दें कि इससे पहले भी मनसे कार्यकर्ताओं और स्थानीय फेरीवालों के बीच झड़प की खबरे आती रही हैं। फेरीवालों का आरोप है कि अक्सर उन्हें मनसे कार्यकर्ताओं की गुंडागर्दी का सामना करना पड़ता है। इसलिए मामले में मुंबई के फेरीवालों ने एक महासभा का आयोजन कर आपस में संगठित होने की रणनीति बनाई थी। दूसरी तरफ एमएनएस के अध्यक्ष राज ठाकरे ने इसी बीच फिर एक भड़काऊ बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि छठ के बहाने बिहारी और यूपी वाले मुंबई को कब्जाना चाहते हैं।
Reactions: 

Related

Uttar Pradesh 294643193578254557

Post a Comment

emo-but-icon

Popular

item